बिना लक्षण वाले भी हो सकते हैं कोरोना से संक्रमित!!!

Spread the love

डेस्क
कोरोना का क़हर देशभर में फैला है। देशभर में लॉकडाउन है ऐसे में सिर्फ़ सावधानी ही हमारा हथियार बन सकता है। क्योंकि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को कोरोना वायरस के फैल रहे संक्रमण को लेकर चौंकाने वाला खुलासा किया है। देश में अब बिना लक्षण वाले कोरोना संक्रमित भी मिल रहे हैं। यह चिंता की बात है। ऐसे मरीजों में पहले से कोई लक्षण नहीं दिखता है। चूंकि, यह स्वस्थ दिखते हैं लेकिन इनसे संक्रमण के फैलने का खतरा रहता है। क्योंकि इन्हें खुद भी नही पता है कि वह कोरोना से संक्रमित हैं। अनजाने में वह कोई लोगों को संक्रमित लेकर सकते हैं।
ऐसा नहीं है कि ऐसे मामले सिर्फ़ भारत में हैं बल्कि अब तक दुनियाभर में 30% से ज्यादा संक्रमित मिले हैं, जिनमें पहले से कोई लक्षण नहीं थे।

लोगों से सेल्फ़ डिस्टैंस पालन और मास्क पहनने की अपील
कोरोना से बचने के लिए सूरत में प्रशासन की ओर से लोगों को बारंबार सेल्फ डिस्टैंस पालन और मास्क पहनने के लिए कहा जा रहा है।इसके बावजूद कई लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं।कई लोगों के ख़िलाफ़ प्रशासनिक कार्रवाई की शुरुआत की है। सूरत महानगर पालिका ने सेल्फ़ डिस्टेंस का पालन नहीं करने और मास्क नहीं पहनने वालों से दंड लेने की शुरुआत की है। बीते 3 दिन से पालिका उन्हें आर्थिक दंड दे रही है ।पहले दिन ही द247 लोगों को 24,700 रूपये का दंड किया गया था|

बुधवार को एक मामला, कुल 21
शहर में बुधवार को और एक कोरोना पॉजिटिव का मामला सामने आने के साथ में शहर में कोरोना पॉजिटिव के कुल 21मामले हो चुके हैं| सौदागर वाड क्षेत्र के 70 वर्षीय महिला का कोरोना का रिपोर्ट आज पॉजिटिव आया।उनकी कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है ।स्वास्थ्य विभाग ने वृद्ध महिला से जो मिले थे उनकी जांच करना शुरू की है दूसरी ओर देर रात एक कोरोना कि शंकास्पद मरीज की मौत हो गई। हालांकि अभी तक रिपोर्ट नहीं आने से मृतक को कोरोना था या नहीं यह स्पष्ट नहीं हो सका है,लेकिन प्रशासन सतर्क हो गया है। प्रशासन ने मृतक के परिवारजनों को कोरोना की गाइडलाइन के अनुसार ही अंतिम विधि करने की सूचना दी थी
बीते 3 दिनों में लगातार कोरोना के तीन मरीज आने के कारण प्रशासन पहले से ही चौकन्ना हो चुका है आपको बता दें कि शहर में रांदेर क्षेत्र में कोरोना के अधिक पॉजिटिव मामले सामने आने के कारण प्रशासन ने रांदेर क्षेत्र को मांस क्वॉरेंटाइन क्षेत्र के तौर पर घोषित किया है। इसके अलावा बेगमपुरा को भी मास क्वॉरेंटाइन घोषित किया गया है। आज इन दोनों क्षंत्रो में सेनेटाइजेशन की कार्रवाई की।

अब तक कुल 248 लोगों की जाँच की
पालिका कमिश्नर बंछानिधी पाणी ने बताया कि अब तक कुल 248 केस की जाँच की। इसमें से 211 के रिपोर्ट नेगेटिव है। 21 के रिपोर्ट पोजिटिव है और 16 का रिपोर्ट पेन्डिंग है।