पचास साल की बुड्ढी को दो से एक साथ हुआ प्रेम! एक को लगा दिया ठिकाने

कहते हैं कि प्यार हो जाए तो बाक़ी कुछ नज़र नही आता! उसके लिए इंसान भला बुरा कुछ नहीं देखता। गुजरात के सूरत में भी कुछ ऐसा हुआ।

डिंडोली क्षेत्र में पचास साल की एक महिला ने अपने दूसरे प्रेमी के साथ मिल कर पहले प्रेमी को मौत के घाट उतार दिया। फिर पुलिस को गुमराह करने के लिए घटना को हादसे की शक्ल देने की कोशिश की।हालाँकि घटना सामने आने के बाद पुलिस ने उसे पकड लिया।


घटना की सच्चाई इस प्रकार है कि पांडेसरा में आर्विभाव सोसायटी निवासी रमेश शेट्टी (50) बुधवार सुबह ग्यारह बजे फैक्टरी में काम करने वाले सहकर्मी डिंडोली रॉयल टाउनशिप निवासी मोहन बारकू पाटिल के घर गया था। इसके बाद वहां दोपहर को बाथरूम में पैर फिसलने से गिर कर बेहोश हो गया। मोहन उसे निकट के निजी अस्पताल में ले गया। जहां उसे मृत घोषित किया गया।

पुलिस ने मोहन से पूछताछ की तो उसने बताया कि वह घटना के वक्त घर पर नहीं था। अपने काम पर गया हुआ था। उसकी सास मोनू उर्फ मीना (50) ने उसे फोन कर बुलाया। बाथरूम में पैर फिसलने से रमेश शेट्टी के साथ हुए हादसे के बारे में बताया।


गुरुवार को पोस्टमार्टम रिर्पोट में गला घोंट कर हत्या करने की पुष्टी हुई । पुलिस ने मीना उर्फ मोनू को बुलाकर अलग-अलग तरीकों से पूछताछ शुरू की। इसमें पता चला किमीना के पिछ्ले 12 वर्षों से अपने दामाद के मित्र रमेश शेट्टी के प्रेम संबंध थे। तीन साल पूर्व मॉडल टाउन वाटिका टाउनशिप निवासी रमेश वाघ के साथ भी प्रेम हो गया। तब से वह रमेश शेट्टी को दूर होने को कह रही थी। मगर रमेश शेट्टी नही मान रहा था।


बुधवार को मीना की पुत्री का जन्मदिन था। इस बहाने रमेश उनके घर आ गया। मीना के साथ उसका विवाद हुआ। मीना ने उसे हमेशा के लिए रास्ते से हटाने का प्लान बना रमेश वाघ को बुलाया।
उसके साथ मिलकर दोपहर में रमेश शेट्टी की गला घोंट कर हत्या कर दी। पुलिस ने मीना को हिरासत में लिया फिर उसके नए प्रेमी रमेश वाघ को भी पकड़ लिया।