आप पार्टी की महिला कोर्पोरेटर और उसके पति गिरफ्तार, वैक्सिन सेन्टर पर हंगामा का आरोप!

 रविवार को सूरत शहर के पुणा-सीमाडा़ शहरी स्वास्थ्य केंद्र में टीकाकरण अभियान के दौरान आप की महिला कोर्पोरेटर और उसके पति ने  डॉक्टरों सहित कर्मचारियों के साथ हाथापाई की साथ ही तबादला करने की धमकी देने के आरोप में पुलिस ने आप पार्टी की महिला पार्षद रचना हिरपारा और उनके पति को उनके खिलाफ दर्ज मामले में गिरफ्तार कर लिया है।


डॉ. अंजलि मनिकावाला, चिकित्सा अधिकारी और उनके कर्मचारी पिछले रविवार को पुणे-सीमाडा शहरी स्वास्थ्य केंद्र  टीकाकरण कर रहे थे। स्वास्थ्य केंद्र ने घोषणा 100 लोगों को टीका लगने के बाद वैक्सिन समाप्त हो गई है। इस दौरान आम आदमी पार्टी का एक कार्यकर्ता पहुंचा और कहने लगा कि तुम लोग काम नहीं कर रहे। तुम्हारा वेतन हमारे टेक्स से होता है।

कुछ देर में आप पार्टी की महिला कोर्पोरेटर रचना हीरपरा उसके पति तथा अन्य दो लोग आ गए।चिकित्सा अधिकारी डॉ अंकिता मनिकावाला ने कार्यालय में प्रवेश किया और पूछा कि आप लोगों को टीका क्यों नहीं लगाते हैं। डॉक्टर अंकिता ने कंप्यूटर पर वैक्सीन की डोज की जानकारी दिखाने के अलावा कहा कि आज कोई और डोज उपलब्ध नहीं होगी।

उन्होने पार्षद साथ आए युवक को कंप्यूटर से रिकॉर्ड की फोटो लेने से रोक दिया लेकिन उन्होंने जारी रखी इससे ड़ॉ अंकिता ने मोबाइल ले लिया। पार्षद रचना और उनके पति समेत चारों में आपस में मारपीट हो गई। घटना के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंची। आम आदमी पार्टी की पार्षद रचनाबेन अंकुरभाई हिरपारा (31) और उनके पति अंकुर मनसुखभाई हिरपारा व अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया।

आप पार्टी की कोर्पोरेटर का आरोप भाजपा से जुड़ने के लिए तीन करोड का ऑफर, पति से भी करवाया तलाक


सूरत के वार्ड नंबर 3 में आम आदमी पार्टी की महिला पार्षद रीता दुधागरा ने आज बीजेपी विधायक पर आरोप लगाया। महिला पार्षद ने आरोप लगाते हुए कहा कि कामरेज के विधायक ने उन्हें भाजपा में शामिल होने के लिए 3 करोड़ रुपये की पेशकश की थी। हालाँकि, जब उसने प्रस्ताव को ठुकरा दिया, तो उसके पति को एक कथित भाजपा एजेंट द्वारा भाजपा में शामिल होने का लालच दिया गया। इन कारणो से पति पत्नी में मनमुटाव के चलते रीता दुधागरा का परिवार बिखर गया है।

उन्होने यह आरोप भी लगाया कि उनके पति ने भाजपा से 25 लाख रुपये लिए है। रीता ने मीडिया से कहा, “मुझ पर अभी भी भाजपा द्वारा दबाव डाला जा रहा है।”कामरेज के मौजूदा विधायक वीडी झालावाड़िया हैं। सूरत नगर निगम के वार्ड नंबर 3 में आम आदमी पार्टी की एक महिला उम्मीदवार रीता दुधागरा को शहर के सभी नगरसेवकों में सबसे ज्यादा बढ़त के साथ विजेता थी। महिला पार्षद रीता दुधागरा ने कहा, “मेरी शानदार जीत के बाद, मुझे पिछले कुछ समय से कामरेज विधायक द्वारा भाजपा में शामिल होने की पेशकश की जा रही है।” मुझे अपने परिवार के पैसे के लालच में न आने के दबाव के कारण तलाक भी लेना पड़ा है।

रीता ने कागजात भी दिखाए कि उनके पति ने बिना समझौते का पालन किए ही तलाक ले लिया। दूसरी ओर कामरेज के विधायक वी.डी. झालावाड़िया ने कहा कि यह सरासर झूठ है, निराधार है। मैं रीता दुधागरा को भी नहीं जानता। मैंने कोई प्रस्ताव नहीं दिया। मुझे आज इस आरोप के बाद पता चला कि वह तलाकशुदा है। उनके पति को 25 लाख रुपये देने का कोई मतलब नहीं है, लेकिन अगर वे आरोप लगाते हैं, तो वे आगे आकर डिबेट करें। आप पार्टी मनगढ़ंत आरोप लगा रही है।

https://www.instagram.com/tv/CQON0jIH5wW/?utm_medium=copy_link


रीता ने कहा कि उनके पति ने उन्हें एक पार्टी के लिए तलाक दिया था। रीता ने कहा कि उनके पूर्व पति ने भी इस प्रस्ताव को स्वीकार करने के लिए दबाव डाला और समाज और पार्टी को बदनाम करने का षडयंत्र किया गया । अंत में 21 मई को रीता दुधागरा ने पति चिराग को तलाक देने का फैसला किया था। रीता ने आरोप लगाया कि दोनों ने हाल ही में तलाक लिया है और चिराग दुधागरा भी 25 लाख रुपये में भाजपा में शामिल होने का आरोप लगाया।

पानी के बिल सहित तीन माँग को लेकर ‘आप’ के कोर्पोरेटर उपवास पर उतरे

सूरत महानगर पालिका में सामान्य सभा ऑफ़लाइन करने की मांग के साथ पानी के बिल को लेकर एवं सूरत टेक्सटाइल मार्केट को सस्ते में जमीन देने को लेकर आम आदमी पार्टी की ओर से विरोध किया जा रहा है। 3 दिन पहले महानगर पालिका में हंगामा करने वाले विरोध पक्ष के काउंसिलरो को गिरफ़्तार कर लिया गया था। उन्हें जमानत पर मुक्त करने के बाद विरोध पक्ष के नेता उपवास पर बैठ गए हैं।

विरोध पक्ष के नेता के उपवास में काउन्सिलर भी उनके साथ भी जुड़ गए है। आम आदमी पार्टी का कहना है कि शासक पक्ष अपने लोगों का लाभ हो इसलिए काम कर रहा है। सूरत की जनता पानी का बिल भर कर परेशान है। लोगों की बात नहीं सुनी जा रही। जिसके चलते उपवास किया जा रहा है।

उनके साथ उपवास में वार्ड नंबर 3 के नगरसेवक कनुभाई गेडिया, वार्ड नंबर 4 के नगरसेवक धर्मेंद्र वावलिया अन्य कई कार्यकर्ता भी जुड़ गए हैं। समाधान नहीं होने पर जल्दी ही तीव्र विरोध की धमकी भी दी गई है। बताया जा रहा है कि आम आदमी पानी का बिल लेने तथा मनपा द्वारा 127 करोड़ रूपए में सूरत टैक्सटाइल मार्केट को ओप शोप एन्ड वेर हाउस लिमिटेड को 99 साल के ज़मीन लीज़ पर देने का विरोध कर रही है। साथ ही सामान्य सभा ऑफ़लाइन करने का विरोध किया जा रहा है।

सूरत की जीत पर क्यां बोले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल

गुजरात में मनपा के चुनाव को लेकर मंगलवार को आप पार्टी के लिए खुशी का दिन रहा। पहली बार गुजरात में मनपा का चुनाव लड़ रही आप पार्टी को सूरत में 27 सीटों की सौगात मिली। इस जीत से आप पार्टी के आलाकमान खुश हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सूरत में मंगलवार की दोपहर ट्वीट कर आप पार्टी की जीत को के बारे में नई राजनीति की शुरुआत करने के लिए गुजरात के लोगों को दिल से बधाई दी है। उन्होंने लिखा है कि ‘नई राजनीति की शुरूआत करने के लिए गुजरात के लोगो के लिए बधाई’।

चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद 27 सीट आप के पाले में गई। इसे आप पार्टी अपनी बड़ी जीत मान रही है और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी 26 फरवरी को सूरत में रैली निकालेंगे। आपको बता दें कि आप पार्टी ने गुजरात के छह महानगरों में दावेदारी की थी जिसमें की सूरत में आप पार्टी को सफलता मिली है।

इसके पहले जब चुनाव प्रचार चल रहा था तब भी दिल्ली के उप मुख्यमंत्री ने सूरत आकर लोगों से आपको वोट देने की अपील की थी। आपको बता दें कि मंगलवार को मनपा के चुनाव के परिणाम घोषित हुए जिसमे की भाजप को 93 सीट आप पार्टी को 27 सीट और कांग्रेस अपना खाता भी नहीं खोल सकी है। आप पार्टी सूरत में पहली बार मनपा चुनाव में विजई हुई है। जीतने के बाद आप के समक्ष लोगों के विश्वास पर खरा उतरने की चुनौती है।

सूरत मनपा चुनाव में भाजपा सत्ता और आप विपक्ष बनने की ओर, कांग्रेस मुश्किल में


गुजरात में सूरत समेत छह महानगर पालिकाओं के चुनाव परिणाम घोषित हुए। जिसमें कि सभी महानगरपालिकाओ के परिणाम भाजपा के पक्ष में रहे। सूरत में भाजपा सत्ता की ओर आगे बढ चुकी है जबकि आम आदमी पार्टी को अपना खाता खोलने में सफलता मिली।

पिछली बार की अपेक्षा इस साल कांग्रेस के लिए चुनाव परिणाम निराशाजनक रहे। कांग्रेस के लिए ‘पास’ गले की फांस बन गया। टिकिट बांटने में पाटीदारों को कम आंकना कांग्रेस को भारी पड़ा। नतीजा यह रह कि पिछली बार जिन सीटों पर कांग्रेस को अच्छी लीड और जीत मिली थी। वह गईं सीटे आप ने हथिया ली।

अभी तक मिली जानकारी के अनुसार वॉर्ड नंबर1,6,10,14,15,21,23,25,27,29 पर बीजेपी की पेनल जीती, जबकि वॉर्ड नंबर 4 और 16 पर आप को विजय मिली है। जिन स्थानो पर गिनती चल रही है। उन ज्यादातर स्थानो पर अभी बीजेपी आगे हैं। एकाध वॉर्ड में कांग्रेस और आप के प्रत्याशी आगे हैं। वार्ड नंबर पांच में आप के सभी प्रत्याशी आगे चल रहे हैं। आप ने पहली बार मनपा चुनाव में दावेदारी की और सफलता हासिल की है।

आप पार्टी की ओर से 22 साल की प्रत्याशी पायल साकरिया भी विजयी रही। आज सबेरे से ही भाजपा सहित अन्य पार्टियों के प्रत्याशी और समर्थक ढोल नगाडे के साथ मतगणना केन्द्र पर पहुंच गए। सूरत में एसवीएनआईटी तथा मजूरा गेट पर गांधी इंजिनियरिंग कॉलेज में मतदान की गिनती चल रही है।