કાપડ માર્કેટના ટેમ્પો ચાલક કામદારોના પ્રશ્નોના નિરાકરણ માટે બેઠક યોજાઈ

રવિવારે રીંગરોડ કમેલા દરવાજા ખાતે સુરત શહેર ટેમ્પો ઓનર ડ્રાઈવર વેલ્ફેર એસોસિએશન, સુરત જિલ્લા ટેક્સટાઈલ માર્કેટિંગ ટ્રાન્સપોર્ટ લેબર યુનિયન અને મીલ ટેમ્પો ડિલિવરી કોન્ટ્રાક્ટર એસોસિએશન સુરતના સંયુક્ત નેજા હેઠળ એક બેઠકનું આયોજન કરવામાં આવ્યું હતું. બેઠકમાં માર્કેટમાં પાર્કિંગની સમસ્યા સહિત અન્ય સમસ્યાઓ અંગે વિસ્તૃત ચર્ચા કરવામાં આવી હતી. મિટિંગમાં હાજર ટેમ્પો એસોસિએશનના પ્રમુખ શ્રવણસિંહ ઠાકુરે જણાવ્યું હતું કે, માર્કેટમાં ગ્રે કપડાની ડિલિવરી કરતા કામદારોએ ગ્રે કાપડના સેમ્પલ બતાવા માટે પહેલા દુકાનમાં જવું પડે છે અને બાદમાં પાર્કિંગમાં પાર્ક રહેતા મીલના વાહનોને તથા વેપારીના ગોડાઉનમાં ડિલિવરી આપવાની હોય છે. આવી સ્થિતિમાં ટેમ્પો ચાલકને ગ્રેની ડિલિવરી માટે ડબલ ધક્કો ખાવો પડી રહ્યો છે. યુનિયનના પ્રમુખ ઉમાશંકર મિશ્રાએ જણાવ્યું હતું કે માર્કેટમાં પ્રથમ એક કલાક મફત પાર્કિંગ આપવાના સુપ્રીમ કોર્ટના આદેશનું ખુલ્લેઆમ ઉલ્લંઘન થઈ રહ્યો છે અને માર્કેટ મેનેજમેન્ટ દ્વારા ટેમ્પો ચાલકો પાસેથી મનસ્વી રીતે પાર્કિંગ ફી વસૂલ કરવામાં આવી રહી છે. મીલ ટેમ્પો ડિલિવર કોન્ટ્રાક્ટર એસોસિએશનના પ્રમુખ રાજેન્દ્ર ઉપાધ્યાયે જણાવ્યું હતું કે માર્કેટ વિસ્તારમાં આવેલ મ્યુનિસિપલ કોર્પોરેશનનાં પે એન્ડ પાર્કનાં કોન્ટ્રાક્ટરો મનસ્વી રીતે પાર્કિંગ ફી વસૂલી રહ્યા છે અને એક જ પાર્કિંગમાં અલગ-અલગ લોકોને ગેરકાયદેસર પેટા કોન્ટ્રાક્ટ આપવામાં આવ્યો છે જેના કારણે ટેમ્પો ચાલકો પાસેથી એક જ પાર્કિંગમાં અલગ- અલગ પાર્કિંગ ફી વસૂલવામાં આવી છે. આ સાથે પે એન્ડ પાર્કનાં કોન્ટ્રાક્ટર દ્વારા તેમને ફાળવવામાં આવેલ પાર્કિંગ એરિયાની બહાર રોડ પર વાહનો પાર્ક કરાવીને ગેરકાયદેસર રીતે પાર્કિંગ ફી વસૂલવામાં આવી રહી છે જેના કારણે ટેમ્પો ચાલકોને ટ્રાફિક જામનો સામનો કરવો પડી રહ્યો છે. આગામી સમયમાં ઉપરોક્ત તમામ સમસ્યાઓ અંગે આંદોલન કરવામાં આવશે. મીટીંગમાં ટેમ્પો ચાલક કામદારોને ડ્રાઈવીંગ કરતી વખતે ડ્રાઈવીંગ લાયસન્સ, પીયુસી, ઈન્સ્યોરન્સ સહિતના તમામ જરૂરી દસ્તાવેજો સાથે રાખવા આહવાન કરવામાં આવ્યું હતું. આ પ્રસંગે મોટી સંખ્યામાં કામદારો અને ટેમ્પો ચાલકો ઉપસ્થિત રહ્યા હતા.

नई चमकः 11 माह में 10582 करोड़ के लैबग्रान हीरो का निर्यात


सूरत
नेचुरल हीरो का विकल्प बना लेब्रग्रॉन डायमंड अब धीरे-धीरे विदेश में अपनी पैंठ जमा रहा है।वर्तमान वित्तीय वर्ष 2023-24 में 11 महीने मे 10582 करोड रुपए से अधिक के लैबग्रान डायमंड का निर्यात विदेश में हो चुका है।आने वाले दिनों में भी लैबग्रान डायमंड का निर्यात बहुत तेजी से बढ़ेगा ऐसी उम्मीद हीरा उद्यमी बता रहे हैं।
हीरा उद्योग के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सूरत में नेचुरल हीरो के साथ लैबग्रान डायमंड का काम बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है।लगभग 1000 से अधिक डायमंड यूनिट में लैबग्रान डायमंड का काम होता है।सूरत के हीरा उद्यमियों के पास 10000 डायमंड रिएक्टर है।जिनमें की लैबग्रान डायमंड बनाए जाते हैं।कोरोना के बाद से लेब्रग्रॉन डायमंड की डिमांड डिमांड लगातार बढ़ती जा रही है।अमेरिका यूरोप सहित अन्य देशों में लैबग्रान डायमंड की ज्वेलरी लोग पसंद कर रहे हैं।यह डायमंड देखने में बिल्कुल नेचुरल डायमंड जैसा लेकिन कीमत आधे से भी कम होने के कारण लोग नेचुरल डायमंड की जगह लैबग्रान डायमंड को भी पसंद कर रहे हैं।मध्यमवर्गीय परिवार जो कि अब तक नेचुरल डायमंड नहीं खरीद सकते थे उन्हें विकल्प के तौर पर लेबनान डायमंड मिलने के कारण ज्वेलरी आदि की खरीदी कर रहे है।नेचुरल हीरो की बात करें तो रूस और यूक्रेन का युद्ध के बाद से नेचुरल हीरो जमीनों के लिए संघर्ष जनक स्थिति बनी हुई है। वही लैबग्रान डायमंड का निर्यात तथा बढ़ रहा है। 2023 मे फरवरी महीने में 19582 करोड रुपए के नेचुरल हीरो का निर्यात हुआ।इसके मुकाबले फरवरी 2024 में 14162 करोड रुपए के नेचुरल डायमंड का निर्यात हुआ अर्थात की वर्तमान वर्ष में फरवरी मे नेचुरल हीरो की डिमांड में 28 प्रतिशत की कमी आई है।वहीं लेब्रग्रॉन डायमंड की बात करें तो वर्तमान वित्तीय वर्ष में 11537 करोड रुपए के लैबग्रॉन डायमंड का निर्यात हुआ।जो कि बीते वर्ष की अपेक्षा 3.29 प्रतिशत अधिक हैं।
हीराउद्योग के सूत्रों का कहना है कि सूरत में 2 लाख से अधिक लोग लैबग्रॉन डायमंड के कारोबार से जुड़े हैं।मंदी के समय में भी लैबग्रान डायमंड ने ही कई हीरा श्रमिकों को रोजगार देकर बेरोजगार होने से बचाया था।आने वाले दिनों में भी इलेक्ट्रॉन डायमंड का भविष्य उज्जवल है।
— पाँच माह मे लैबग्रॉन हीरो का निर्यात
महीना ————-——-निर्यात
अप्रेल-23—-838 करोड
मई-23—————-1147 करोड
जून-23———-901 करोड
जुलाई—23——-866करोड
अगस्त—23 ——-974 करोड
सितंबर—23———1102करोड
अक्टूबर—23——-1135 करोड
नवंबर—23———861 करोड
दिसंबर—23———695 करोड
जनवरी_24____946 करोड
फरवरी—24——1153 करोड

जीएसटीः ई-वे बिल बिना माल की बिक्री रोकने के लिए पैट्रोलिंग वैन की संख्या बढ़ाई!

सूरत
स्टेट जीएसटी विभाग करचोरी रोकने के लिए एड़ी चोटी का ज़ोर लगा रहा है।सेन्ट्रल बोर्ड ऑफ इन डायरेक्ट टैक्स एंड कस्टम की ओर से भी टैक्स चोरों को सबक़ सिखाने के लिए आए दिनों जीएसटी के नियमों में संशोधन किए जाते हैं।जीएसटी रिटर्न से लेकर ई-वे बिल में भी अब तक कई बार नियमों में परिवर्तन आ चुका है।इसके बावजूद जीएसटी चोरी करने वाले व्यापारी अलग अलग ढंग से टैक्सचोरी करने का प्रयास करते रहते हैं।कई बार बिना बिल के ही व्यापारी माल बेच देते हैं।इस तरह कि टैक्सचोरी रोकने के लिए सूरत में सड़कों पर मोबाइल पैट्रोलिंग वैन घूमते रहती है।इस मोबाइल वैन की संख्या अब से बढ़ा दी गई है।सूरत शहर में अब तक दो पेट्रोलिंग वैन हाईवे पर और सड़कों पर से आने वाले गाड़ियों पर वाच रखते थी और यदि तक हो तो गाड़ी रुकवाकर ड्राइवरों से ई- वे बिल मांग लेते। अब से पेट्रोलिंग वैन में अधिकारियों की संख्या और गाड़ी की संख्या बढ़ा दी गई है।सूरत में बड़े पैमाने पर कपड़ा बनता है।इसलिए बिना बिल के कपड़ों की ख़रीदारी भी कई लोग करते हैं। पेट्रोलिंग वैन की जाँच के दौरान बड़े पैमाने पर कपड़े के की टैक्स चोरी सामने आयी है।इसके अलावा इलेक्ट्रिक साधन, कैमिकल भंगार आदि भी पकड़े गए हैं। जीएसटी डिपार्टमेंट बिना बिल के बेचे जाने वाले माल पकड़कर ज़ब्त कर लेता है और माल बेचने वाले से जीएसटी की रक़म तथा पेनाल्टी वसूल करता है।
—-
जीएसटी विभाग करचोरो के खिलाफ सक्रिय
वर्तमान वित्तीय वर्ष में एक सूरत जीएसटी डिपार्टमेंट में सूरत में 12 करोड़ रुपए से अधिक की टैक्स चोरी पकड़ी है।जीएसटी डिपार्टमेंट ने बीते दिनों बड़े पैमाने पर ट्यूशन क्लासेज, ट्रैवल एजेन्सी,होटल संचालक सहित अन्य कई व्यापारियों पर छापेमारी की थी और र करोड़ रुपए की टैक्स चोरी भी पकड़ी थी। इसके पहले डिपार्टमेंट ने बोगस बिलिंग करने वालों के ख़िलाफ़ भी मुहिम शुरू करके सूरत में डेढ़ सौ से अधिक फ़र्ज़ी व्यापारी पेढ़ियां ढूंढ निकाली थी। इनके ख़िलाफ़ अभी भी डिपार्टमेंट जाँच कर रहा हैऔर जिन लोगों ने फ़र्ज़ी व्यापारियों से बिल ख़रीदा था उनसे रिकवरी की जा रही है।

કામદારોના પ્રાણ પ્રશ્નો બાબતે રાહુલ ગાંધી સમક્ષ રજૂઆત કરાઈ

ભારત જોડો ન્યાય યાત્રા દરમિયાન બારડોલીમાં ઇન્ટુકનાં આગેવાનો દ્વારા રાહુલ ગાંધીને પત્ર આપી સુરત સહિત દક્ષિણ ગુજરાતના કામદારોના પ્રશ્નો બાબતે લેખિત રજૂઆત કરવામાં આવી હતી.

રવિવારે કોંગ્રેસ નેતા રાહુલ ગાંધીની ભારત જોડો ન્યાય યાત્રા સુરતના બારડોલીથી પસાર થઈ હતી. આ દરમિયાન ઈન્ટુકના ગુજરાત પ્રદેશ પ્રમુખ નૈશાદ દેસાઈ, સુરત ઈન્ટુક પ્રમુખ ઉમાશંકર મિશ્રા, કામદાર નેતા અને ઈન્ટુક અગ્રણી શાન ખાન સહિત ઈન્ટુકના અન્ય હોદ્દેદારોએ રાહુલ ગાંધીનું સ્વાગત કર્યું હતું. ઈન્ટુક દ્વારા કામદારોનાં પ્રાણ પ્રશ્નો બાબતે એક પત્ર રાહુલ ગાંધીને આપવામાં આવ્યો હતો. આ પત્રમાં જણાવવામાં આવ્યું હતું કે સુરત સહિત દક્ષિણ ગુજરાતમાં ટેક્સટાઈલ, ડાયમંડ સહિત અન્ય ઔદ્યોગિક એકમોમાં લાખો કામદાર ભાઈ-બહેનો કાર્યરત છે, જેમના લોહી અને પરસેવાથી ઉદ્યોગો ચાલે છે. આમાં મોટાભાગના કામદારોના ઉત્તર પ્રદેશ, બિહાર, ઝારખંડ, ઓરિસ્સા જેવા રાજ્યોના પરપ્રાંતિય કામદારો છે. ઉપરોક્ત એકમોમાં કામ કરતા કામદારોનું ભારે શોષણ થઈ રહ્યું છે, તેઓને કોઈપણ પ્રકારના કાયદાકીય લાભો અને સુવિધાઓ મળી રહી નથી અને કામદારો પાસે તેમની શારીરિક ક્ષમતા કરતા વધુ કામ કરાવવામાં આવી રહ્યું છે. મોટાભાગના કામદારો લઘુત્તમ વેતન, PF, ESI, ગ્રેજ્યુટી વગેરે જેવા મૂળભૂત અધિકારોથી પણ વંચિત છે અને આ ઉદ્યોગોમાં કામ કરતા કામદારોને ન તો કોઈ નોકરીની સુરક્ષા છે કે ન તો કોઈ સ્વાસ્થ્ય કે સામાજિક સુરક્ષા. માલિકો કોઈપણ કારણ બતાવ્યા વગર મનસ્વી રીતે કામદારોને જ્યારે ઈચ્છે ત્યારે કાઢી મૂકે છે.

આ ઉદ્યોગોમાં ભારે મશીનો અને ખતરનાક રસાયણોનો ઉપયોગ કરવામાં આવે છે જેના કારણે સુરક્ષા અને સલામતીના સાધનો આપવા જરૂરી છે પરંતુ કામદારોને કોઈપણ પ્રકારના સલામતી અને સુરક્ષા સાધનો આપવામાં આવતા નથી જેના કારણે અવારનવાર અકસ્માતો થતા રહે છે. અને કામદારો જીવ ગુમાવે છે અને ગંભીર રીતે ઘાયલ પણ થાય છે, પરંતુ આવી સ્થિતિમાં પણ કામદારો અને તેમના પરિવારજનોને યોગ્ય વળતર મળતું નથી. ઉદ્યોગોના માલિકોને સત્તાનું સીધું રક્ષણ પ્રાપ્ત છે કોઈપણ સરકારી વિભાગમાં કામદારોની કોઈ સુનાવણી થતી નથી જો કોઈ કામદાર તેની સાથે થઈ રહેલા અન્યાય સામે ફરિયાદ કરે તો તે કામદારને ડરાવી-ધમકાવીને અનેક પ્રકારે ત્રાસ આપવામાં આવે છે. વર્તમાન સમયમાં કામદાર અને શ્રમિક વર્ગ આવા તમામ અન્યાય સામે ઝઝૂમી રહ્યો છે, આવી પરિસ્થિતિમાં સુરત અને દક્ષિણ ગુજરાતના કામદારોને તમારી પાસેથી ઘણી અપેક્ષાઓ છે તેથી અમારી માંગણી છે કે અમારા ઉપરોક્ત તમામ મુદ્દાઓને ધ્યાનમાં રાખીને આપ કામદારો માટે ન્યાયનો અવાજ બુલંદ કરો.

સુરતની ઐતિહાસિક ઉપલબ્ધિ: સમગ્ર ભારતમાં સૌથી સ્વચ્છ શહેર બન્યું સુરત

સુરતઃગુરૂવારઃ- સુરત શહેર હવે સમગ્ર ભારતમાં સૌથી સ્વચ્છ શહેર બન્યું છે. નવી દિલ્હીના ભારત મંડપમ ખાતે કેન્દ્ર સરકારના સ્વચ્છ ભારત મિશન – અર્બન ઇનિશિએટીવ અંતર્ગત આયોજિત સ્વચ્છતા સર્વેક્ષણ પુરસ્કાર સમારોહમાં રાષ્ટ્રપતિશ્રી દ્રૌપદી મુર્મુના હસ્તે સુરતને સમગ્ર ભારતમાં સૌથી સ્વચ્છ શહેરનો પુરસ્કાર પ્રાપ્ત થયો છે. પ્રથમ ક્રમે સુરત અને ઇન્દોર સંયુક્ત વિજેતા બન્યા છે. મેયર અને મ્યુ.કમિશનરે નવી દિલ્હીના ભારત મંડપમ ખાતે સ્વીકાર્યો એવોર્ડ સુરતવાસીઓ, મનપા કર્મચારીઓ-અધિકારીઓ, સ્વચ્છતાકર્મીઓમાં આ વિરલ સિદ્ધિથી આનંદની લાગણી છવાઈ છે.


ઓલ ઇન્ડિયા ક્લીન સિટીઝમાં પ્રથમ ક્રમ મેળવનાર સુરત શહેરની સિદ્ધિ બદલ આનંદ વ્યક્ત કરતા મેયરશ્રી દક્ષેશ માવાણીએ જણાવ્યું હતું કે, વડાપ્રધાનશ્રી નરેન્દ્ર મોદીના સ્વપ્ન સમા “સ્વચ્છ ભારત” ના મંત્રને સાકાર કરવા હર હંમેશ તત્પર રહેતા સુરત મહાનગરપાલિકાના સૌ કર્મચારીઓ, દિવસ રાત ખડે પગે ઉભા રહી સુરતને સ્વચ્છ રાખનાર સફાઈકર્મી ભાઈઓ-બહેનો અને સ્વચ્છતાને પોતાની નૈતિક જવાબદારી સમજનાર સૌ સુરતીઓનો શહેરને સ્વચ્છ રાખવામાં મહત્વપૂર્ણ યોગદાન છે, સુરતને દેશને સૌથી સ્વચ્છ શહેર બનાવવામાં આ સૌનો સહિયારો પુરૂષાર્થ છે.


શ્રી માવાણીએ ઉમેર્યું કે, વડાપ્રધાનશ્રીએ પણ મન કી બાતમાં સુરતની સ્વચ્છતાની સરાહના કરી હતી. સુરત વર્ષોથી સ્વચ્છ શહેરોની હરોળમાં સ્થાન મેળવતું રહ્યું છે, ત્યારે આ વર્ષે સુરત અને ઇન્દોરની સંયુક્ત પસંદગી થતા હવે સ્વચ્છતાના શિખરે બિરાજ્યું છે એમ જણાવી તેમણે અગામી દિવસોમાં શહેરીજનોના સાથસહકાર અને સફાઈકર્મીઓના પરિશ્રમ થકી સુરતની સ્વચ્છતા અને પ્રથમ ક્રમને જાળવી રાખવાની પ્રતિબદ્ધતા વ્યક્ત કરી હતી.મ્યુ.કમિશનર શાલિની અગ્રવાલે પણ આ ઐતિહાસિક સિદ્ધિમાં બહુમૂલ્ય યોગદાન આપનાર સ્વચ્છતાકર્મીઓ, બદલ સુરતવાસીઓ, અધિકારી-કર્મચારીઓને અભિનંદન પાઠવ્યા હતા.

વિશ્વનું સૌથી મોટું શહેરી સ્વચ્છતા સર્વેક્ષણ
. . . . . . . . . . . . . . . .
ભારતીય સ્વચ્છતા સર્વેક્ષણ એ વિશ્વનું સૌથી મોટો શહેરી સ્વચ્છતા સર્વેક્ષણ છે. શહેરોમાં સ્વચ્છતા જાળવવા માટે તેની શરૂઆત ૨૦૧૬ માં કરવામાં આવી હતી. સ્વચ્છતા સર્વેક્ષણની ૮ મી સિઝન હેઠળ ૨૦૨૩માં ૪૫૦૦ થી વધુ શહેરો યાદીમાં સમાવિષ્ટ હતા. આ વખતે સર્વેની થીમ ‘વેસ્ટ ટુ વેલ્થ’ હતી. શહેરોમાં ગત તા.૧ જુલાઈથી ૩ હજાર કર્મચારીઓને સ્વચ્છતાના મૂલ્યાંકનનું કામ સોંપવામાં આવ્યું હતું. શહેરોનું મૂલ્યાંકન ૪૬ પેરામીટર પર કરવામાં આવ્યું હતું. લગભગ ૧૦ કરોડ નાગરિકો પાસેથી ફીડબેક લેવાનો લક્ષ્યાંક હતો.
-૦૦૦-

સુરતઃ ઉધનામાં શાસ્ત્રીનગર વિસ્તારમાં મોટા પાયે દબાણો દુર કરાયા


પોલીસ બંદોબસ્ત વચ્ચે લારી ગલ્લા સહિતનો માલ – સામાન જપ્ત કરાયો

શહેરના ઉધના દરવાજા પાસે આવેલ શાસ્ત્રી નગર અને તેની આસપાસના વિસ્તારમાં છેલ્લા ઘણા સમયથી દબાણ અને ગંદકીની પારાવાર સમસ્યાને પગલે આજરોજ ઉધના અને લિંબાયત ઝોન દ્વારા સંયુક્તપણે દબાણ હટાવવાની સાથે – સાથે સફાઈ અભિયાન હાથ ધરવામાં આવ્યું હતું. પોલીસ બંદોબસ્ત સહિત એસઆરપી જવાનો અને માર્શલો સાથે મનપાની ટીમ દ્વારા આ વિસ્તારમાં વહેલી સવારથી જ મોટા પાયે દબાણો દુર કરવાની સાથે સાથે સફાઈ અભિયાન બાદ દવા છંટકાવની કામગીરી હાથ ધરી હતી.


સૂત્રો પાસેથી જાણવા મળતી માહિતી અનુસાર શહેરના રિંગરોડ પર ડો. બાબા સાહેબ આંબેડકરની પ્રતિમાની સામે શાસ્ત્રી નગર પાસે પસાર થતાં રસ્તા પર સ્થાનિકો મોટા પાયે દબાણ ઉભું કરવામાં આવ્યું હતું. લારી – ગલ્લા સહિત ગેરેજ અને વેસ્ટ મટીરીયલ્સના ખડકલાને કારણે અડધાથી વધારે રસ્તા પર દબાણ ઉભું કરવામાં આવતાં સ્થાનિકો સહિત વાહન ચાલકોને પણ ભારે હાલાકીનો સામનો કરવો પડી રહ્યો હતો. આ સંદર્ભે સ્થાનિકો દ્વારા રજુઆત કરવામાં આવતાં આજે ઉધના ઝોન – એ અને લિંબાયત ઝોન દ્વારા આ વિસ્તારમાં સંયુક્તપણે દબાણ દુર કરવાની સાથે સફાઈ અભિયાનની કામગીરી કરવામાં આવી હતી.

વહેલી સવારથી સ્થાનિક પોલીસ જવાનો સહિત મહાનગર પાલિકાના માર્શલ અને એસઆરપીની ટીમ દ્વારા ચુસ્ત સુરક્ષા બંદોબસ્ત ગોઠવી દેવામાં આવ્યો હતો. જો કે, સ્થાનિક દુકાનદારો દ્વારા આ કામગીરી અંગે કોઈપણ પ્રકારનો વિરોધ ન કરવામાં આવતાં વહીવટી તંત્રે પણ હાશકારો અનુભવ્યો હતો. બપોર સુધીમાં આ વિસ્તારમાંથી લારી ગલ્લા સહિત મોટા પાયે માલ-સામાન જપ્ત કરવામાં આવ્યો હતો. આ સિવાય આરોગ્ય વિભાગની ટીમ દ્વારા પણ તાત્કાલિક આ વિસ્તારમાં સફાઈ અભિયાન બાદ જંતુનાશક દવાનો છંટકાવ કરવામાં આવ્યો હતો. મહાનગર પાલિકાના વહીવટી તંત્ર દ્વારા હાથ ધરવામાં આવેલી કામગીરીને પગલે સ્થાનિકોએ પણ હાશકારો અનુભવ્યો હતો.

शाला क्रमांक-47 की शिक्षिका किरण जगदेवराव वानखेडे कन्या शिक्षा को देती है बढ़ावा

सूरत – सुरत महानगर द्वारा संचालित नवागाम स्थित श्रीमती सावित्रीबाई फुले प्रा. कन्या शाला नं-47 में हिंदी विषय की शिक्षिका किरण जगदेवराव वानखेडे(41) का पढ़ाने का अंदाज़ कुछ ऐसा ही है। जिससे बच्चो की पढ़ाई भी पूरी और उन्हें आनंद का अनुभव भी होता है। शिक्षिका किरण पिछले 21 वर्षो से शिक्षिका कि भूमिका अदा कर रही है। किरण का पढ़ाने का तरीका एकदम अनोखा है। वो बच्चों के सामने पाठ्यक्रम का जीवंत प्रसारण करती है फिर चाहे विषय कोई भी हो।


किरण कहते है कि पढ़ाई करने के लिए समय नहीं निकला ला जाता बस आप ऐसा खेल खेलो जिसमे मनोरंजन के साथ पढ़ाई भी हो जाए। आप सब सुनते है की बच्चा पूरा दिन कंचा खेलता है इसलिए वह पढ़ाई में समय नहीं दे पाता, लेकिन हमने एक ऐसा गणन यंत्र बनाया है जिससे विद्यार्थी कंचा खेल में गिनती सीख जाते है।


वो पढ़ाई में आते पत्र व्यवहार का उदाहरण देकर कहती है कि पाठ्यक्रम के आधार पर हम अपने क्लास में प्रत्यक्षीकरण करते है। जिसमें विद्यार्थिनियों द्वारा एक लाल पोस्ट बॉक्स तैयार किया जाता है। सभी बालिकाएं पत्र लिख कर उसमे डालती है। इससे बच्चे पत्र व्यवहार की प्रणाली से परिचित हो जाती है। बच्चों की कला कौशल्य सिमित न रहे इसलिए किरण ने ‘मेरा ब्लैक बोर्ड ‘ कि शुरु आत की। किरण का कहना है की बालिकाएं अपने ब्लैक बोर्ड पर कविता ,कहनी, चित्रकला, निबंध , सामान ज्ञान के सवाल लिखती है इससे बच्चो के लिखे सभी सामग्री को स्कूल के सभी शिक्षक, बच्चो के माता पिता आते जाते पढ़ते है, जिससे सभी बालिकाओं के कौशल्य से परिचित हो सके, आनेवाले कल के लिए बहेतर कवित्री ,लेखिका या पेंटर तैयार कर सके।


अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए वो कहती है कि बच्चो संवाद से रूबरू हो सके इस लिए पत्रकार परिषद का आयोजन किया जाता है. ताकि वह लोगो के सामने अपनी बाद आत्मविश्वास के साथ रख सके। अक्सर बच्चों का सवाल होता है मिलेट्स वर्ष क्या है ? मिलेट्स के प्रति जागरूता आये इसलिए हम क्लास में ही उसका डेमो देते है। कुछ बच्चियाँ मिलेट्स से बने व्यंजन कक्षा में लती है और व्यंजन बनाते समय उसका वीडियो भी बनाती है जिसे और बालिकाएँ प्रोत्साहित होती है।


भूतकाल का एक किस्सा याद करते हुए उन्होंने अपनी पुरानी विद्यार्थिनी के बारे में बताया , जिसे उन्होंने सिलाई बुनाई सीख कर आर्थिक उपार्जन करने की सलाह दी थी और कुछ वर्ष पश्चात अपने पिता के देहातन के बाद उसने वही कला से अपने भाई -बहन और माता का भरण पोषण किया। बस वही से मैंने लड़कियों को कला क्षेत्र में निखार आये , उन्हें जीवन में आत्मनिर्भर बनने के लिए प्रोत्साहित करने का मन ही मन ठान लिया।
पर्यावरण के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए स्कूल में ही एक ‘ईको कलब’ की शुरुआत की जानकारी देते हुए , उन्होंने कहा आज सारे गमलों कि देखभाल बच्चे ही करते है। अपने घरों में भगवन की पूजा में उपयोग हुए फूल को बच्चे लेकर उसीसे खाद बनाते है। बुनियादी तालीम को महत्त्व देते हुए वो पाठ्यक्रम के अनुसार अपने विद्यार्थियों को हस्तकला, बागवानी, इनोवशन आदि की शिक्षा देती है .


अपने संघर्षो के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि मैंने अपनी शिक्षा विकट परिस्थिति में की है। उस समय लड़कियों के लिए गिने चुने क्षेत्र का ही चयन करना होता था। इसलिए आज बदलते वक्त के साथ में कन्या शिक्षण को बढ़ावा दे यही सलाह देती हूँ कि बड़े सपने देखो क्योंकि आसमान तुम्हारा है , जहाँ चाहो अपना आशियाना बनालो।


नगर प्राथमिक शिक्षण समिति और प्राथमिक शैक्षिक महासंघ ,सूरत द्वारा किरण पाटिल को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 2022 पर सम्मानित किया गया तथा शिक्षण विभाग, गुजरात द्वारा प्रतिभाशाली शिक्षक-2023 का सम्मान प्राप्त हुआ है। शिक्षा समाज का वह आईना है, जिसमें सूरत और सीरत दोनों को खूबसूरत बनाया जा सकता है।
(खास लेख : मनीषा शुक्ला)

11 जुलाई 2023, जानिए कैसा होगा आप का आज का दिन

आज का राशिफल

****************

11 जुलाई 2023, मंगलवार

==================

मेष राशिफल : अपने व्यवहार को नम्र बनायें अन्यथा अपने संबंध खत्म कर लेंगे। परिजनों के साथ तीर्थाटन संभव है। शारीरक बाधा दूर होकर कार्यसिद्धि होंगे। संतान के विवाह की चिंता रहेगी।

वृषभ राशिफल : मित्रों के साथ एक नया कारोबार शुरू करने वाले है। सफल रहेंगे। व्यवसाय में नई तकनीकी का प्रयोग लाभांवित करेगा। परिवारिक झंझटों से दूर रहें। प्रशासनिक कार्य में प्रयास अधिक करना पड़ेंगे।

मिथुन राशिफल : विरोधी आप को नुकसान पहुंचा सकते है, सतर्क रहें। अपने जीवन में सुकून चाहते हो तो स्वयं को खुश रखो और झूठ बोलना छोड़ दो। गृहस्थ सुख मिलेगा, भय व चिंता का माहौल बनेगा।

कर्क राशिफल : माता-पिता के साथ समय व्यतीत होगा। वाहन खरीदने का मन बनेगा। पुराना रोग उभर सकता है, सतर्क रहें। संपत्ति के बड़े सौदे हो सकते हैं। बेरोजगारी दूर होगी। पित्रों की प्रसन्नता के लिए जतन करेंगे।

सिंह राशिफल : कारोबार में हो रहे नुकसान को रोकने के लिए कार्यस्थल पर वास्तु अनुसार परिवर्तन करें। काम में मन नहीं लगेगा। विदेश यात्रा के योग बन रहे हैं। पारिवारिक कार्य सफल रहेंगे।

कन्या राशिफल : यदि जीवन में सफल होना चाहते हो तो आलस त्याग दें। अपनी मानसिकता बदलें। निजी कार्यों के लिए समय कम लगेगा। व्यवसायिक भागदौड़ अधिक होगी।

तुला राशिफल : कार्यक्षेत्र में मेहनत का फल मिलेगा। समाज में प्रतिष्ठा बढ़ेगी। विदेशी व्यवसाय में निवेश से लाभ होगा। धन प्राप्ति सुगम होगी। जीवनसाथी की चिंता रहेगी।

वृश्चिक राशिफल : आप सोचते तो बहुत हैं, पर कार्यों को कर नहीं पाते। अभी समय है। दृढ़ संकल्प लें और अपने काम में मन लगायें। संतों का सानिध्य प्राप्त होगा। शुभ समाचार मिल सकता है।

धनु राशिफल : अपने आप पर भरोसा रखें और जो भी करें पूरे विश्वास से करें, लाभ होगा। रोजगार प्राप्ति संभव है। कुसंगति से बचें। प्रेम-प्रसंग में जोखिम न लें, अज्ञात भय रहेगा।

मकर राशिफल : अपने व्यस्त दिनचर्या में से भगवान के लिए भी समय निकालें। दुसरों की निंदा करने से बचें। जीवनसाथी के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। परिजनों से विवाद न करें।

कुंभ राशिफल : व्यावसायिक का हुआ धन वापस आएगा। यात्रा लाभकारी रहेंगी। कारोबार में मन नहीं लगेगा। तनाव तथा चिंता रहेंगी। संतान से विवाद संभव है।

मीन राशिफल : व्यावसायिक नई योजना लाभकारी रहेगी। कार्यपद्धति में बदलाव लाना जरूरी है। वायदा बाजार निवेशा‍दि शुभ रहेगा। निजी जीवन में तनाव तथा अस्वस्थता रहेगी।

आज का पंचांग

===========

11 जुलाई 2023, मंगलवार

************************

तिथि      नवमी     06:06 PM

नक्षत्र      अश्विनी  07:04 PM

करण      तैतिल    06:21 AM

              गर        06:06 PM

पक्ष         कृष्ण

योग         सुकर्मा   10:51 AM

वार          मंगलवार

सूर्योदय     05:30 AM

सूर्यास्त      07:21 PM

चन्द्रमा       मेष

राहुकाल    03:54 – 05:38 PM

विक्रमी संवत्  2080

शक सम्वत  1945 (शोभकृत)

मास      श्रावण

शुभ मुहूर्त

अभीजित   11:58 – 12:54 PM

आज और कल का दिन खास 

*************************

11 जुलाई 2023 : दूसरा मंगला गौरी व्रत आज।

11 जुलाई 2023 : विश्व जनसंख्या दिवस आज।

12 जुलाई 2013 को हिन्दी फ़िल्मों के जाने माने नायक, खलनायक और चरित्र अभिनेता प्राण का निधन हुआ।

12 जुलाई 2012 को विश्व प्रसिद्ध पहलवान और हिन्दी फ़िल्मों के अभिनेता दारा सिंह का निधन हुआ।

Benco ने अप्रत्याशित कीमतों पर पेश किया “S1 स्मार्ट फोन”

Benco ने अप्रत्याशित कीमतों पर नई “S1 स्मार्ट फोन” को बड़े स्टोरेज और 48 MP TripleBack Camera के साथ रिलीज़ किया है ।

BENCO,एक तेजी से बढ़ रही स्मार्ट फोन ब्रांड, ने अपने New मोबाइल फोन उत्पाद BENCO S1 की आगामी रिलीज़ की घोषणा की है । नया BENCO S1 बड़े स्टोरेज स्थान, प्रीमियम कैमरा और उच्चस्तरीय नई कॉन्फ़िगरेशन प्रदान करता है । यह युवाओं के बीच विशेष रूप से लोकप्रिय होने की उम्मीद है । BENCO S1 की एक प्रमुख विशेषता उसकी 128GB की बड़ी आंतरिक मेमोरी है, जिससे उपयोगकर्ताओं को महत्वपूर्ण दस्तावेज़ संग्रह करने और अधिक ऐप्स डाउनलोड करने के लिए परेशान होने की चिंता नहीं करनी पड़ती। इसके अलावा, 6GB रैम और 5GB वर्चुअल रैम का विस्तारितस्थान उपयोगकर्ताओं को अधिक बफरस्थान प्रदान करता है, फोन को और सहज बनाता है, Hang करने की घटना को कम करता है और पिछले प्रयोगों का समर्थन करता है।

BENCOS1 का एक और महत्वपूर्ण विशेषता उसका कैमरा प्रणाली है।फोनमें 48MP AI Triple Camera सेटअप है। 48MP प्रमुख कैमरे में 1.6µm 4-in-1 सुपर –पिक्सल सेंसर के साथ आता है। यह अधिक प्रकाश आप्से अधिकतम प्रकाश अवशोषित कर सकता है ताकि उपयोगकर्ता आसानी से किसी भी अवसर पर उज्ज्वल और स्पष्ट फ़ोटो ले सकें। 2MP मैक्रो कैमरा उपयोगकर्ताओं को 3 सीमी की अल्ट्रा – मैक्रो फ़ोटोग्राफी के मज़े का अनुभव करने की सुविधा प्रदान करता है। फ्रंट कैमरे के मामले में, एक 16MP सेल्फ़ी कैमरा जो 2µm 4-in-1 सुपर – पिक्सल सेंसर का उपयोग करता है, एक और सुविधाजनक और प्रिय सेल्फ़ी – शूटिंग अनुभव के लिए उपयोग होता है।

BENCOS 1 में एक आकर्षक और कार्यकारी डिज़ाइन भी है। यह दो रंगों मेंउपलब्ध है : पन्ना हरा और गैमस्टोन ब्लैक। इसे 6.8 इंच मेगा एच डी+ पंच – होल डिस्प्ले, 91% उत्कृष्टस्क्रीन – टू – बॉडी अनुपात और 20.5:9 आस्पेक्ट अनुपात से सुसज्जित किया गया है। उपयोगकर्ता फोन का इस्तेमाल करते समय एक सुखदग्रिप अनुभव कर सकते हैं और वीडियो देखते या खेल रहे समय अधिक समाप्ति अनुभव कर सकते हैं । इसके अलावा, BENCOS 1 को एक अनलॉक करने वाले फिंगर प्रिंट सें सर और चेहरे को अनलॉक करने की तकनीक से भी सुसज्जित किया गया है । फिंगरप्रिंट अनलॉक करने का बटन फोन के तरफ है , इससे 0.1 सेकंड की तेज़ी से अनलॉकिंग की सुविधा है , जिससे उपयोगकर्ता फोन तक और आसानी से तेज़ी से पहुंच सकते हैं ।

उपयोगकर्ताओं को एक और त्तम , तेज़ और सुरक्षित मोबाइल फोन अनुभव करने के लिए , BENCOS 1 को एक प्रबल T606 ऑक्टा – कोर प्रोसेसर , Android 13 सिस्टम और UFS 2.2 के साथ लैस किया गया है । बड़े फ़ाइल डाउनलोड करने , डेटा स्थानांतरित करने या कई ऐप्स खोलने के मामले में , BENCOS 1 इसे आसानी से संभाल सकता है । इसके अलावा, BENCO ने इसे 18W फ़ास्टचार्जिंग तकनीक के साथ एक टिकाऊ 5000mAh की बैटरी से सुसज्जित किया है , जिससे उपयोगकर्ताओं को कम समय में बैटरी कमी की चिंता नहीं होती ।
BENCOS 1 एक शानदार उपकरण है जिसमें अद्वितीय व्यावहारिकता , बहुमुखीता औरशक्ति क आसंयोजन है । इसके 128 GB आर ओ एम प्लस 11GB वर्चुअल रैम, 48MP ए आई त्रिपल पीछे कैमरा के साथ 16MP ए आई फ्रंट कैमरा , 0.1 सेकंड की फिंगर प्रिंट अनलॉक प्रौद्योगिकी , और T606 ऑक्टा – कोर प्रोसेसर के साथ Android 13 सिस्टम, इसे सबसे अच्छी तकनीक का अनुभव करने वालों के लिए एक उत्कृष्ट विकल्प बनाता है । BENCOS 1 जल्द ही नेपाल , थाईलैंड जीसीसी, बांगलादेश, इंडिया, और ईजिप्ट में सरप्राइजिंगली दोस्ताना कीमत पर लॉन्च किया जाएगा ।

आई एन वन टेक्नोलॉजी मोबाइल फोन और डिजिटल एक्सेसरीज़ के अनुसंधान और उत्पादन पर ध्यान केंद्रित करती है । BENCO आई एन वन टेक्नोलॉजी के तहत एक स्वतंत्र मोबाइल फोन ब्रांड है । यह उभरते हुए स्मार्टफोन मार्केट पर ध्यान केंद्रित है और युवाओं को व्यक्तिगत और रोमांचक अनुभव के साथ उच्चगुणवत्ता वाले उत्पाद प्रदान करती है । BENCOS 1 का अनुभव करने में रुचि रखने वाले किसी भी व्यक्ति को अधिक जानकारी के लिए BENCO से संपर्क कर सकता है ।

एक बिहारी न्यूज – बिहार, उतर प्रदेश की लेटेस्ट न्यूज़ (हिंदी समाचार) के लिए फॉलो करे

एक बिहारी न्यूज की आधिकारिक शुरुआत बिहार राज्य के खबरों को गहराई से प्रस्तुत करने के लिए हुआ है. यह एक प्रमुख न्यूज वेबसाइट है जो बिहार से जुड़ी विभिन्न विषयों पर संपादित और उपयोगी जानकारी प्रदान करता है. एक बिहारी समाचार साल 2023 के अप्रैल महीने से काम कर रहा है. हालांकि, इसकी शरुआत जनवरी महीने में ही हो गई थी.

एक बिहारी न्यूज एक डिजिटल प्लेटफॉर्म है जहां पाठकों को बिहार से संबंधित खबरों, सामाजिक मुद्दों, राजनीति, कला-संस्कृति, खेल, व्यापार और प्रौद्योगिकी से जुड़ी विभिन्न विषयों पर समाचार और जानकारी मिलेगी. एक बिहारी न्यूज को आप विभिन्न सोशल मीडिया जैसे कि ट्विटर, फेसबुक और इंस्टा पर भी फॉलो कर सकते हैं. यह एक पहल है जो बिहार के सभी प्रमुख शहरों के विषय में समाचार प्रदान करेगी, जिसमें पटना, गया, भागलपुर, मुजफ्फरपुर, आरा, दरभंगा और भी कई शहर शामिल हैं.

एक बिहारी न्यूजकी संपादकीय नीति न्यायपूर्णता, सटीकता और पेशेवरता पर आधारित है. उच्चतम मानकों का पालन करते हुए इस प्लेटफॉर्म पर प्रकाशित होने वाली सभी खबरें विश्वसनीय और आपूर्तिकर्ताओं द्वारा सत्यापित होंगी. पाठकों को बिहार से संबंधित जानकारी के साथ-साथ विशेष रूप से बिहार की सांस्कृतिक विरासत, राजनीतिक मामलों, और युवा पीढ़ी के विकास पर विचारों का भी मनोरंजन और गहराई से अध्ययन करने का अवसर मिलेगा.

एक बिहारी न्यूज (Ek Bihari News) का मुख्य उद्देश्य बिहार राज्य में सटीक और सत्यापित समाचार प्रदान करना है. इसके साथ ही यह एक मंच प्रदान करेगा जहां बिहार के लोग अपनी बातें रख सकें, अपनी आपातकालीन मामलों को शेयर कर सकें और विचारों का विमर्श कर सकें. यह प्लेटफॉर्म सुविधाजनक, उपयोगी और प्रोग्रेसिव होगा जो अधिक से अधिक लोगों को संपादित समाचारों तक पहुंचने का मौका देगा यह प्रारंभिक दिनों में डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से ही उपलब्ध होगा. पाठक इसे वेबसाइट और मोबाइल ऐप के माध्यम से उपयोग कर सकेंगे. हम विश्वास करते हैं कि एक बिहारी समाचार अपने पाठकों के लिए एक अद्वितीय स्रोत होगा जो उन्हें नवीनतम समाचारों से अवगत कराएगा और उनकी आवश्यकताओं को पूरा करेगा.

इस उद्घाटन समारोह के माध्यम से हम सभी बिहारी भाई-बहनों को एक बिहारी समाचार का हार्दिक स्वागत करते हैं और उनका समर्थन प्राप्त करने के लिए धन्यवाद देते हैं. हम संकल्पित हैं कि हम नई सदी में बिहार के लोगों के लिए एक साथ काम करके इस प्लेटफॉर्म को सफलता और महत्वपूर्णता के ऊपर ले जाएंगे.

पता:

एक बिहारी समाचार
गोपालगंज, बिहार
841426

संपर्क:

ईमेल: info@ekbiharinews.com
वेबसाइट: www.ekbiharinews.com
फोन: 6150271338